नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9974940324 8955950335 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , सायरा बस स्टैंड से राजकीय चिकित्सालय को गांव के बाहर शिफ्ट करने के विरोध में विधायक को सौपा ज्ञापन – भारत दर्पण लाइव

सायरा बस स्टैंड से राजकीय चिकित्सालय को गांव के बाहर शिफ्ट करने के विरोध में विधायक को सौपा ज्ञापन

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

सायरा बस स्टैंड से राजकीय चिकित्सालय को गांव के बाहर शिफ्ट करने के विरोध में विधायक को सौपा ज्ञापन

उदयपुर 12 जुलाई
कांतिलाल मांडोत

गोगुन्दा तहसील के सायरा पंचायत समिति के बस स्टैंड पर स्थित राजकीय चिकित्सालय को गांव से बाहर शिफ्ट करने की चर्चा ने जोर पकड़ा है।सायरा बस स्टैंड पर करीब 63 वर्षो से चिकित्सा सेवा प्रदान करने वाला राजकीय अस्पताल अब गांव के बाहर स्थापित किया जाएगा।ग्रामीणों की सुविधा के लिए उपयुक्त चिकित्सालय को अन्यत्र स्थापित करने की मांग को लेकर ग्रामीणों में रोष है।इसे गांव से बाहर करीब तीन से साढ़े तीन किमी दूर स्थापित करने की योजना चल रही है।सायरा अस्पताल में पहले सामान्य अस्पताल के नाम से ही जाना जाता था।लेकिन आधुनिक सुविधाओं के मद्देनजर यह लोगो की जरूरत का केंद्र बन गया है।

चिकित्सको की टीम और उनके व्यवहार के कारण पहले सायरा अस्पताल में मरीज पहुंचते है।चिकित्सको के मार्गदर्शन के बाद उदयपुर अस्पताल का रुख करते है।सायरा बस स्टैंड स्थिति अस्पताल में सायरा डिवीजन के करीब सौ गांवो के ग्रामीण उपचार के लिए सायरा का रुख करते है।आवागमन की सहूलियत और बस स्टैंड पर स्थित अस्पताल ग्रामीणों के लिए अच्छी सुविधा है।राज्य सरकार ने नए जिले बनाने और पंचायत समिति को तहसील बनाने के इस सुपरविजन में अस्पताल को भव्य और मल्टी स्पेशयलिटी बनाने की योजना को मूर्तरूप देने के लिए कवायद शुरू कर दी है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की धारणा से बनने वाले अस्पताल को ग्रामीण इसी जगह स्थापित देखना चाहते है।अभी अस्पताल में मिलने वाली सुविधाओं को बढ़ाया गया है।

अस्पताल को नवनिर्मित बनाने और मल्टी बनने पर खुशी है।ग्रामीण चाहते है कि सायरा का 1960 में निर्माण किया गया अस्पताल नए कलेवर में बनकर ग्रामीणों को सुपुर्द किया जाए।लेकिन समस्या साढ़े तीन किमी दूरी की है।जिसके लिए गर्भवती महिलाओं और असाध्य बीमारी वाले मरीजों के लिए तकलीफ़देह है।जगह के अभाव में अन्य जगह पर स्थापित करने का विरोध जताया है।इसके विरोध में गोगुन्दा विधायक प्रतालाल गमेती को ज्ञापन दिया है।ग्रामीणों कहना है कि अस्पताल को दूसरी जगह शिफ्ट करने में आवागमन प्रभावित होगा।इसलिए अस्तपाल को यथावत रखा जाए और इसी को आधुनिक बनाया जाए।विधायक को मुख्यमंत्री के नाम दिए गए ज्ञापन मे अस्पताल को ग्रामीणों की तकलीफ के मद्देनजर बस स्टैंड पर ही रहने देने का आग्रह किया है।

*इनका कहना है*-सायरा बस स्टैंड पर स्थित राजकीय अस्पताल को राज्य सरकार द्वारा अन्यत्र शिफ्ट करने का ग्रामीण विरोध जाता रहे है।क्रमोन्नत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अन्यत्र स्थापित करने से मरीजों के लिए आवागमन बाधित होगा।
                                    *प्रतापलाल गमेती*
                                     विधायक गोगुन्दा*

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

June 2024
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930