नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9974940324 8955950335 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , उभरती शक्ति भारतवर्ष वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को साकार करने में सफल हुआ* – भारत दर्पण लाइव

उभरती शक्ति भारतवर्ष वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को साकार करने में सफल हुआ*

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*उभरती शक्ति भारतवर्ष वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को साकार करने में सफल हुआ*

भारत स्वयं एक उभरती शक्ति के रूप में गहरी छाप छोड़ रहा है।जी 20 समिट शिखर सम्मेलन में भारत ने साझा घोषणा पत्र में सहमति कायम कर जीत का उदाहरण पेश किया है।साझा घोषणा पत्र में आ रही विसंगतियों को नजर अंदाज नही किया जा सकता था। इसमे सबसे बड़ा अवरोध रूस यूक्रेन जंग है।जिसको लेकर जी20 देशो के लिए व्यवधान खड़ा हो गया था। लेकिन भारत ने सभी देशों का विश्वास जीत कर घोषणा पत्र को बहाल करने की इस उपलब्धि के पीछे भारत की अपनी निष्ठा रही है।यह कूटनीतिक कौशल के पीछे देशवासियों की लगन और देश के प्रति समर्पण भाव है।चीनी राष्ट्रपति और रूसी राष्ट्रपति का जी 20 समिट में भाग नही लेना साझा घोषणा पत्र को जारी करने में व्यवधान पैदा हो रहा था।लेकिन उनकी अनुपस्थिति में भी भारत के प्रति जी 20 समिट का भरोसा कायम था। जी 20 देशो की अगवानी और भारत की और से किया गया स्वागत ऐतिहासिक छाप छोड़ गया।भारत वैश्विक हितों को सर्वोच्च प्राथमिकता देने वाला देश है।जिससे सफलता कदम चूमती नजर आ रही है।भारत पहले अन्य देशों को फायदा पहुंचाने के लिए संकल्पित रहता है।उसके बाद अपना हित सोचता है।इस भावनात्मक अभिगम से जी 20 देशो ने सकारात्मक रुख अपनाया। भारत की दुनिया कायल है, क्योंकि वसुधैव कुटुम्बकम की भावना हर दिल मे समाहित है।भारत ने सदस्य देशों को राजी करने में अहम भूमिका निभाई है।।आज विश्व फलक पर भारत की वाहवाही हो रही है।आर्थिक स्वावलंबन में बढ़ाए गए वैश्विक कदम में भारत की पहल स्वागतयोग्य है।घोषणा पत्र में लैंगिक समानता और जलवायु परिवर्तन की वैश्विक समस्या एवं महिलाओं और लड़कियों को शशक्त बनाने की मुहिम से दुनिया मे खुशी का माहौल है। जी 20 की सफलता ही भारत की सफलता है।विश्व की आधी आबादी की परवाह करने वाला भारतवर्ष महिलाओ के सम्मान के लिए हमेशा आगे रहा है।वैश्विक जैव गठबंधन ईंधन बनाने की मुहिम सकारात्मकता की और अग्रसर होने से भारत विकसित देश की तरफ आगे बढ़ रहा है।लिहाजा, भारत अब विश्व गुरु बनने वाला नही है,भारत विश्व गुरु बन चूका है।इसका श्रेय भारत के 140 करोड़ लोगों की लगन और विश्वास का प्रतीक है।भारत उभरती शक्ति है जो विश्व को दिवास्वप्न से नही बल्कि हकीकत की और अग्रसर कर रही है।

                           *कांतिलाल मांडोत*

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

June 2024
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930