नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9974940324 8955950335 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , लालू की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने सुप्रीम में दी दलील – भारत दर्पण लाइव

लालू की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने सुप्रीम में दी दलील

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

*लालू की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने सुप्रीम में दी दलील*

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की जमानत करने पर सुप्रीम में बहस हुई।सीबीआई के वकील ने इसका विरोध करते हुए कहा कि लालू बैडमिंटन खेल रहे है।उनकी जमानत का फैसला भी गलत था।लालू ने समय के मुताबिक समय जेल में नही बिताया है।लालू पटना से दिल्ली पहुंचकर तेज गति से दौड़ने वाली रेलगाड़ियों और साइबर कैफे के प्रति पैदा हुए उनके नए आकर्षण ने राजनीति के प्रति उनका समूचा दॄष्टिकोण ही बदल दिया।रेल भवन के आधिकारिक संसाधनों से लैस लालू राजनैतिकों को निशाना बनाने लगे थे।भाजपा लालू की अव्वल दुश्मन थी।और आज भी वर्तमान में दुश्मन है।पटना में तैनात सीबीआई के संयुक्त सचिव उपेंद्र बिस्वास चारा घोटाले की जांच के दौरान लालू की गिरफ्तारी के लिए सेना को बुला लिया था।भाजपा ने बिस्वास की कार्यवाई को उचित ठहराया गया था।चारा घोटाला से उभर ही नही पाए लालू ने आईआरसीटीसी मामले में जमीन के बदले रेलवे में नौकरी देने के आरोप लगे।जिसमे लालू के अलावा बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी,राज्यसभा सांसद मीसा भारती समेत अन्य के खिलाफ सीबीआई की दलील रखी जायेगी।चारा घोटाले में लालू सजा का आधा हिस्सा काट चुके है।30 अप्रेल 2022 लालू को जमानत दे दी गई थी।लालू ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मैं फिट हूं।अब मोदी को फिट करूंगा।लालू का पक्ष लेते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि बेचारे को तंग किया जा रहा है।सीबीआई जानबूझ कर लालू को परेशान कर रही है।केंद्र की और से सबको परेशान किया जा रहा है।रेल मंत्री ने 200 करोड़ रु के रेलवे स्लीपर ठेके की सीबीआई जांच पुनः कराने का आदेश दिए।नीतीश कुमार गठबंधन के राजनैतिक संबंध के बीच अपकार का बदला भूल गए है,लेकिन लालू ने नीतीश पर भी 200 करोड़ का आरोप लगाया था।उनके पूर्ववर्ती नीतीश पर यह ठेका रेलवे की मान्य पत्रिका का उल्लंघन करते हुए चुनिंदा उत्पादकों के एक समूह को देने का आरोप था।लालू ने कई वर्ष पुराना सरसो तेल घोटाला का आरोप यशवंत सिन्हा पर लगाया था।लालू ने लिब्राहन आयोग से मांग की थी कि लालकृष्ण आडवाणी और उमा भारती की क्या भूमिका थी।लालू प्रसाद ने गोधरा कांड की जांच की स्वीकृति न्यायाधीश यूसी बनर्जी की अध्यक्षता में ले ली थी।तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को जलील करने की अनेक कोशिश लालू ने की थी।आज भी मोदी लालू के निशाने पर है।

*.                           कांतिलाल मांडोत *

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

June 2024
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930