नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9974940324 8955950335 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , राजस्थान में कमजोर पहलुओ पर फोकस कर चुनावी गणित में लगे राजनैतिक दल – भारत दर्पण लाइव

राजस्थान में कमजोर पहलुओ पर फोकस कर चुनावी गणित में लगे राजनैतिक दल

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

राजस्थान में कमजोर पहलुओ पर फोकस कर चुनावी गणित में लगे राजनैतिक दल

राजस्थान में कांग्रेस विधानसभा चुनाव में जीत और इस साल फिर से सत्ता में आने के लिए महंगाई में राहत की फार्मूला शुरू की है।इसका सीधा प्रहार केंद्र की एनडीए सरकार पर किया जा रहा है।महंगाई में राहत के लिए कैम्प के माध्यम से किट बेची जा रही है।राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना है कि आप लेते लेते थक जाएंगे ,मगर मैं राहत देते देते नही थकूंगा।आदिवासियों को रिझाने के लिए राजस्थान के उदयपुर जिले के कोटड़ा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपना जन्म दिवस मनाया।कोटड़ा आदिवासी और गरासिया बहुल क्षेत्र है।गोगुन्दा में दो टर्म से भाजपा जीत रही है।दस मई को भाजपा अग्रेसिव कैम्पेनिंग करने के लिए मोदी राजस्थान पहुंचेंगे।कांग्रेस और भाजपा में इस बार चुनावी टक्कर जरूर देखने को मिलेगी।राजस्थान में इस बार कांग्रेस महंगाई का रोना रो रही है।वही भाजपा का मिशन राजस्थान फतह करना है।भाजपा का संगठन चुनाव के लिए तैयार है।चुनाव के कैम्पिनिग के लिए राजनाथ सिंह और नड्डा और अमित शाह को कमान सौंपी जा रही है।

राजस्थान में दक्षिण राजस्थान भाजपा की अच्छी स्थिति है।वही से भाजपा चुनाव अभियान शुरू कर कमजोर सीटो और कम जनाधार वाले क्षेत्रों में दम भरा जा सके।राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजनीति के चाणक्य है।भाजपा को टक्कर देने के लिए कांग्रेस अशोक गहलोत को बेहतर समझती है।बारह महीने से कांग्रेस राजस्थान में प्रचार कर रही है।पांचसौ रुपए में सिलेंडर देने की इस कल्याणकारी योजना के पीछे राजस्थान सरकार ने बहुत प्रचार किया है।उसके पीछे धन व्यय भी किया है।भाजपा जहा मजबूत है वहा भी प्रचार जोरो पर करने और जिन जिन क्षेत्रों में भाजपा का जनाधार कमजोर है वहा जातिगत समीकरण का उपयोग कर मतदाताओं से गठजोड़ करने में भाजपा महारथ हासिल करने में दौड़ लगा रही है।भाजपा के लिए बहुत बड़ी टीम और मैनेजमेंट को फॉलो करने वाले नेता की संख्या बहुत है। जबकि राजस्थान में कांग्रेस प्रचार में पूरी ताकत लगा दी है।राजस्थान से भाजपा चुनाव का प्रचार शुरू करने के लिए कमर कस ली है।सिरोही की तमाम सीटो पर असर होगा।भाजपा का मिशन 2024 है।उसके लिए भाजपा आदिवासियों को रिझाने सिरोही बेल्ट से प्रचार कर 26 सीटों पर अपना प्रभुत्व स्थापित करने की तैयारी में है।राजस्थान में इस बार कांग्रेस की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ सीधे तौर पर जनता ले रही है।वही भाजपा के पार्टी अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा है कि एक भी व्यक्ति बताए जिसने कांग्रेस की योजना का लाभ उठाया है।इस को प्रोपोगेंडा बताकर कागजी कार्रवाई का आरोप लगाया।भाजपा और कांग्रेस के बीच इस महासंग्राम में किस दल के साथ जनता जाएगी,यह समय की बलिहारी है।लेकिन कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने राजस्थान में कल्याणकारी योजनाओं का पिटारा खोलकर जनता के समक्ष रख दिया है।उसके लिए इस बार भाजपा को पसीना छूटने वाला ही है।हर घर और हर गांव ने महंगाई राहत कैंप की कीट वितरण करने निकली कांग्रेस पार्टी का मिशन इस बार जयपुर कुछ करना है। कांग्रेस धरातल से जोरआजमाइश में लग रही है ।दक्षिण राजस्थान में पांच जिलों में 26 सीटों में से 19 सीटे भाजपा के पास है।इन सीटों पर कांग्रेस की ही नजर है इसलिए उदयपुर,आबू माउंट,सिरोही,जालोर पाली अजमेर और ब्यावर जैसी सीटो पर नजर गाढ़े हुए है।

राजस्थान में भाजपा की मुख्य कमजोरी यह है कि उनके पास मुख्यमंत्री का चेहरा नही है।राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नाम की कोई चर्चा नही है।जिसका सीधा असर चुनाव पर पड़ेगा।इस बार भाजपा को यह तय करना होगा कि राजस्थान में दो बार मुख्यमंत्री रह चुकी वसुंधरा राजे की इस बार राजस्थान में भूमिका क्या है।बांसवाड़ा डूंगरपुरऔर प्रतापगढ़ में 11 विधानसभा सीटो में तीन सीट भाजपा के पास है।उसके लिए भाजपा इनजिलों के मतदाताओं को खुश करने के लिए युक्तियुक्त योजना का अमल करने की रणनीति बना रही है।राजसमंद उदयपुर, पाली सिरोही और जालोर में भाजपा की स्थिति काफी ठीक है।उसको साधने के लिए भाजपा प्रचारक टीमो को उतारने की कोशिश में है।मोदी की कथनी और करनी पर देश की जनता भरोसा करती है।उसके लिए मोदी दौरे को प्रचारित कर रहे है। राजस्थान में गुजरात मॉडल का मैसेज देकर मतदाताओं को रिझाने की कोशीश कर सकते है।इस बार कांग्रेस के लिए राह इसलिए आसान नही है कि भाजपा का टर्म है तो कांग्रेस सरकार को रिपीट करने के लिए जनकल्याणकारी योजना लागू कर मतदाताओं को अपने पाले मे करने निकली है।भाजपा राजस्थान में सत्ता हासिल करने के लिए माइक्रो लेवल प्लानिग कर रही है।जिसके लिए भाजपा जीत के करीब पहुंच सके।भाजपा के पास पिछले टर्म से जनाधार कमजोर रहा है और उस पर इस बार विशेष जोर दिया जा रहा है।भैरोसिंह शेखावत के जन्म शताब्दि वर्ष पर भाजपा राजस्थान में कुछ बड़ा करने जा रही है।वहा से ही राजस्थान में मजबूत नींव खड़ी करने की इस योजना को भाजपा सख्ती से लागू करने वाली है।वही कांग्रेस का प्रचार प्रसार लोगो को राहत देने के लिए लंबी दौड़ का घोड़ा बना हुआ है।इस बार अपने अपने पार्टी के दांव किस तरफ निशाना साधने में सफल होते है।उसके लिए इंतजार करना होगा।आगे की रणनीति पर सभी की निगाहें है।


कांतिलाल मांडोत 

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

Donate Now

लाइव कैलेंडर

May 2024
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031